Wednesday, September 28, 2022
Homeताजा ख़बरेंMP में भीषण बारिश से लोगों की जिंदगी बचाने में हम सब...

MP में भीषण बारिश से लोगों की जिंदगी बचाने में हम सब काफी हद तक सफल रहे हैं: सीएम शिवराज

भोपाल। मध्यप्रदेश में 21 अगस्त से 25 अगस्त तक भीषण बारिश हुई। जिससे लोगों को जान माल की बहुत हानि हुई है जिसका सबसे ज्यादा असर गुना, अशोकनगर, भिंड, मुरैना, रायसेन, विदिशा और सीहोर समेत अनेक जिलों में देखने को मिला। वहीँ गांवों में बारिश ने कहर बरपाया। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि कई ऐसे मकान देखने में आए हैं जो मलबे में तब्दील हो गए। अनाज सड़ गया, मकान गिर गए, राशन खराब हो गया, खेतों में फसल नष्ट हो गई।

वहीँ सीएम शिवराज ने कहा हम सड़क से नहीं आ सकते थे। आप यहाँ परेशान थे, तो मैं भी वहाँ परेशान था। प्रदेश के लोगों के लिए हमने सेना के हेलिकॉप्टर भी मंगवाए। SDRF और NDRF की टीमें जुटी थीं। बाढ़ पीड़ितों का जायजा लेते हुए सीएम शिवराज ने कहा कि केवल हिनोतिया नहीं, पूरे विदिशा में 1300 से ज्यादा मकान गिरे हैं, किसानों की फसल को नुकसान हुआ है। संकट और परेशानी है लेकिन शिवराज आपको इस संकट के पार ले जाएगा। मैंने युद्धस्तर पर काम करने के निर्देश दिए थे। मलबा हटाया गया, डॉक्टरों को प्रभावितों का इलाज करने के निर्देश दिए गए और राशन भी भेजा गया।

बाढ़ पीड़ितों को तत्काल दी आर्थिक सहायता
उन्होंने कहा कि 11 करोड़ रुपये तत्काल खातों में डाले। जिनके मकान गिरे हैं, उनके मकान पीएम आवास योजना के तहत बनाएंगे।
मकान बनाने में 6 महीने लगेंगे। तब तक हमें अस्थाई व्यवस्था करना पड़ेगी। अनाज जिनका सड़ा है, उनको राहत राशि देंगे। फसलों का पूरा सर्वे होगा, चाहे वो सोयाबीन हो या धान हो। आरबीसी – 6,4 के तहत 16,000 रुपये देंगे और इसके अलावा फसल बीमा योजना के तहत राहत राशि अलग देंगे। गाय-भैंस बह गई हो तो 30 हजार, बैल के 25 हजार, बकरा-बकरी के 3 हजार और मुर्गा-मुर्गी के लिए 700 रुपये देंगे। सीएम शिवराज ने की बाढ़ पीड़ितों से कहा कि कोई चिंता न करे, मैं सबकी सहायता करूंगा।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -
Google search engine

Most Popular

Recent Comments